Home Crime आर्थिक तंगी के चलते जुड़वा बेटियों को बेचा, सौतेली मां ने बनाया...

आर्थिक तंगी के चलते जुड़वा बेटियों को बेचा, सौतेली मां ने बनाया था प्लान, पुलिस ने 7 लोगों को रिमांड पर भेजा

5
0


हैदराबाद. तेलंगाना के कामारेड्डी जिले में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला प्रकाश में आया है, जहां आर्थिक तंगी से परेशान मां-बाप ने अपनी दो बेटियों को शादी के आड़ में बेच दिया. इस पूरे मामले में तेलंगाना पुलिस ने जुड़वा बहनों के माता-पिता सहित सात लोगों को गिरफ्तार किया और उनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया. कामारेड्डी जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) श्रीनिवास रेड्डी के अनुसार, जुड़वा बहनें जिले के मचारेड्डी मंडल के एक सुदूर गांव की रहने वाली थीं.

80 हजार और 50 हजार में बेचा
उनके जन्म के बाद उनकी मां की मृत्यु हो गई और उनके पिता ने दूसरी महिला से शादी कर ली और उससे एक लड़के और एक लड़की सहित दो बच्चे हुए. इसके साथ ही परिवार में बच्चों की संख्या बढ़कर चार हो गई. उन्होंने बताया, “जब जुड़वां बहनें 14 साल की हुईं, तो उनके पिता और सौतेली मां ने आर्थिक संकट से उबरने के लिए दोनों बहनों को बेचने का प्लान बनाया. इस दौरान उन्होंने राजस्थान के शरमन और कृष्ण कुमार नामक दो व्यक्तियों के साथ एक लड़की को 80,000 रुपये और दूसरी लड़की को 50,000 रुपये में बेचने का सौदा किया.’

सौतेली मां ने जुड़वा बहनों को शादी के लिए मनाया
पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘माता-पिता ने जुड़वा बहनों को शादी के लिए राजी कर लिया. शादी हैदराबाद शहर के बाहरी इलाके में आयोजित की गई थी.’ दोनों जोड़ों ने हैदराबाद के पास अपना पारिवारिक जीवन शुरू किया लेकिन उनके बीच झगड़ा शुरू हो गया जब जुड़वा बहनों को पता चला कि उनके पति पहले से ही शादीशुदा हैं और उनके बच्चे भी हैं तो जुड़वा बहनों में से एक आरोपी के चंगुल से निकलकर 16 जनवरी को उग्रवई गांव पहुंची.

लड़की की जिससे शादी हुई, वो पहले से था शादीशुदा
इसके बाद उस गांव ग्रामीणों ने जिला बाल संरक्षण अधिकारी (डीसीपीओ) श्रावंती को लड़की के बारे में सूचित किया. डीसीपीओ ने बताया कि वह स्टाफ के साथ मौके पर पहुंची और युवती से उसके बारे में पूछताछ की. डीसीपीओ ने कहा, “आरोपित ने नाबालिग लड़की को शारीरिक और मानसिक रूप से परेशान किया. बाद में उसे पता चला कि वह पहले से शादीशुदा था और उसकी एक बेटी भी है. जब नाबालिग लड़की ने उससे उसकी जल्दी शादी के बारे में सवाल किया, तो उसने उसके साथ मारपीट की और उसे अपने घर से बाहर भेज दिया.’

दोनों जुड़वा बहनों को बरामद किया गया
नाबालिग लड़की 100 रुपये की रकम लेकर कामारेड्डी पहुंची. अपने पिता के घर लौटने के डर से, उसने उग्रवाई गांव के एक मंदिर में इस उम्मीद के साथ रहना पसंद किया कि कोई उसे खाना खिला दे. डीसीपीओ ने बताया, ‘उन्हें पता चला कि पीड़ित लड़की की एक और बहन को बेचा गया था तो उसे भी हमने बरामद कर लिया और अब दोनों बहनें हमारी देखरेख में हैं. अगर वे आगे की पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं तो हम उन्हें हर तरह की मदद करेंगे.’

सातों आरोपितों को रिमांड पर भेजा गया
लड़की द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर, डीसीपीओ ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाया. जहां जुड़वां बहन के पिता, सौतेली मां, कृष्णकुमार, शरमन और महेंद्र, कॉलर रामबती और रमेश सहित सात आरोपियों पर POCSO अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया. एसपी ने बताया कि सातों आरोपियों को रिमांड पर भेज दिया गया है और मामले की जांच की जा रही है.

Tags: Crime Information, Telangana

Previous articleगणतंत्र दिवस पर कैसा रहेगा दिल्ली का मौसम, जानें IMD का पूर्वानुमान
Next articleसाकेत गोखले ने चंदे से प्राप्त राशि का उपयोग निजी खर्चों के लिए किया : ईडी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here