Home News Congress Chief Pawan Khera Slams Narendra Modi Know his Newest Comment on...

Congress Chief Pawan Khera Slams Narendra Modi Know his Newest Comment on Reviews India not bei

5
0


Congress Slams Modi Govt on Border Concern: कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा (Pawan Khera) ने बुधवार (25 जनवरी) को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 2020 में यह कहते हुए ‘चीन को एक क्लीन चिट दे दी थी’ कि पड़ोसी देश हमारे क्षेत्र में नहीं घुसा है. खेड़ा ने लद्दाख में 65 गश्त वाले स्थानों में से 26 पर भारत के गश्त नहीं कर पाने की खबरों को लेकर बीजेपी (BJP) नीत केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए यह बात कही.

इस मुद्दे पर मीडिया में आई खबरों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को इस बारे में सोचना चाहिए कि देश इन स्थानों पर गश्त नहीं कर पा रहा, लेकिन प्रधानमंत्री चिंतित नहीं हैं.

क्या कहा पवन खेड़ा ने?

खेड़ा ने हैदराबाद में संवाददाताओं से कहा, ‘‘और, यह क्यों हुआ? क्योंकि 20 जून 2020 को प्रधानमंत्री ने चीन को यह क्लीन चिट दे दी कि उसने प्रवेश नहीं किया है.’’ उन्होंने कहा कि हमारे 20 सैनिकों के पराक्रम का अपमान किया गया. कांग्रेस नेता ने दावा किया कि चीन अब आश्वस्त महसूस कर रहा है कि वह चाहे जो कुछ भी करें, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी छवि बचाने के लिए आंखें मूंदे रहेंगे’ और कहेंगे कि चीन ने कुछ गलत नहीं किया है.

‘अपनी जमीन गंवा दी’

खेड़ा ने दावा किया कि देश ने चीन से लगी सीमा पर अपनी जमीन गंवा दी है. उन्होंने दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश से बीजेपी के एक सांसद ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर चीन को रोकने का अनुरोध किया था, लेकिन इस पत्र का भी कोई जवाब नहीं दिया गया.

मीडिया में आई खबरों में दावा किया गया है कि अग्रिम इलाकों में जिला प्रशासन और स्थानीय लोगों की आवाजाही को रोकने के सेना के रुख ने कभी सुगम्य रहे इलाकों को अनौपचारिक ‘बफर जोन’ में तब्दील कर दिया है.

अनिल एंटनी के इस्तीफे पर यह बोले खेड़ा

प्रधानमंत्री मोदी पर बीबीसी की एक विवादास्पद डॉक्यूमेंट्री के खिलाफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी के बेटे अनिल के ट्वीट को लेकर हो रही आलोचनाओं के बीच उनकी (अनिल) ओर से पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिए जाने के बारे में पूछे जाने पर खेड़ा ने कहा, ‘‘मुझे समझ में नहीं आता कि कांग्रेस में या सार्वजनिक जीवन में किसी व्यक्ति को मीडिया की अभिव्यक्ति की आजादी के खिलाफ क्यों होना चाहिए. जहां तक हमारी पार्टी का संबंध है हम वाक् स्वतंत्रता में मजबूती से यकीन रखते हैं.’’

उन्होंने यह भी कहा कि एक छोटी सी लक्ष्मण रेखा है जब एक व्यक्ति के संगठन में रहने के दौरान उसका पालन किया जाता है. उन्होंने कहा कि ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के संदेश को फैलाने के लिए ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान 26 जनवरी से शुरू किया जाएगा.

यह भी पढ़ें- Padma Awards 2023: पद्म पुरस्कारों की घोषणा, मुलायम सिंह यादव को पद्म विभूषण, 91 हस्तियों को पद्मश्री

Previous articleवो कौन से 4 नेता हैं जिनको मिला है पद्म सम्मान, जानिए उनके बारे में
Next articleराज्यवार जानिए- किस राज्य की झोली में कितने पद्म सम्मान गए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here