Home World Russia Ukraine Struggle: ‘उड़ा देंगे सारे टैंक और रॉकेट’, रूस ने NATO...

Russia Ukraine Struggle: ‘उड़ा देंगे सारे टैंक और रॉकेट’, रूस ने NATO को दी खुली धमकी

2
0


Russia Ukraine Struggle: रूस नाटो देशों पर यूक्रेन को मदद करने को लेकर भड़का हुआ है. नाटो देशों पर गुस्सा जाहिर करते हुए रूस ने धमकी दे डाली है. गौरतलब है कि नाटो देशों ने यूक्रेन को सैन्य सहायता बढ़ा दी है. बस यही बात रूस को नागवार गुजर रही है. 

बता दें कि अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, स्वीडन, समेत कई देशों ने यूक्रेन को अत्याधुनिक हथियार देने की बात कही है. मीडिया रिपोर्ट की मानें तो यूक्रेन को अमेरिका की तरफ से अब्राम टैंक, ब्रिटेन से चैलेंजर-2 टैंक और जर्मनी का लैपर्ड टैंक मिलने वाला है. इस पर रूस ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि इन हथियारों के बाद भी सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला. रूस ने धमकी देते हुए कहा है कि वह किसी भी नाटो हथियारों की तरह इन देशों के टैंकों को भी आसानी से नष्ट कर देगा. 

चिंतित है रूस 

इस बीच पश्चिमी सैन्य विशेषज्ञों का कहना है कि यूक्रेन को मिलने वाली मदद के बाद से रूस चिंतित है और भड़ास उसके द्वारा दी गई प्रतिक्रिया में देखी जा सकती है. एक्सपर्ट की मानें तो पूर्वी यूक्रेन में रूसी सेना पहले से ही पीछे हट रही है. ऐसे में अत्याधुनिक टैंकों, मिसाइल, रॉकेट, आर्मर्ड व्हीकल्स की मदद से यूक्रेनी सेना जबरदस्त पलटवार कर सकती है. 

रूसी राजदूत ने अमेरिका को बताया जिम्मेदार 

अमेरिका में रूसी राजदूत अनातोली एंटोनोव ने कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन और जर्मनी के कदम सिर्फ संकट को और ज्यादा बढ़ाएंगे. इस तरह के फैसले करने से पहले सभी देशों को एक बार सोचना चाहिए. अब बात आगे बढ़ चुकी है. उन्होंने रशिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि अगर यूक्रेन अमेरिका से एम1 अब्राम्स टैंक तैनात करने का फैसला करता है, तो निस्संदेह यह नाटो के अन्य हथियारों की तरह नष्ट हो जाएगा. 

रूसी राजदूत ने आगे दावा किया कि लड़ाई की वजह अमेरिका है. अमेरिका ने ही सब कुछ प्रायोजित किया है. बता दें कि अमेरिका ने यूक्रेन को 30 से अधिक अब्राम टैंक भेजने का फैसला किया है. हालांकि, इस बात की आधिकारिक घोषणा अब तक नहीं की गई है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अमेरिका की तरफ से भेजे जाने वाले इन टैंकों को यूक्रेन तक पहुंचाने में महीनेभर लग सकते हैं. एक अधिकारी ने कहा कि ये टैंक आगामी यूक्रेन सुरक्षा सहायता पहल पैकेज के तहत खरीदे जाएंगे, जो वाणिज्यिक विक्रेताओं से खरीदे जाने वाले हथियारों और उपकरणों के लिए फंडिंग प्रदान करता है.

ये भी पढ़ें: New Zealand: क्रिस हिपकिंस बने न्यूजीलैंड के नए PM, जेसिंडा अर्डर्न की ली जगह, आर्थिक चुनौतियों को लेकर जानें क्या कहा

Previous articleकोराना महामारी के दौरान चर्च में हुई पार्टी, वेटिकन कर रहा पादरी के खिलाफ जांच
Next articleआखिर क्यों पाकिस्तान के दुश्मन तालिबान को चीन देने जा रहा है खतरनाक ‘ब्लोफिश’ ड्रोन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here